May 25, 2024 2:06 am
Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

विभूतिपुर फायरिंग व हत्याकांड: प्रेम प्रसंग व जमीनी की खरीद बिक्री के विरोध में हुईं थी धीरज की ह’त्या

यहां क्लीक कर व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े

दूरबीन न्यूज डेस्क। विभूतिपुर फायरिंग व हत्याकांड: प्रेम प्रसंग व जमीनी की खरीद बिक्री के विरोध में हुई  थी धीरज की ह’त्या। समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर थाना क्षेत्र में नौ मई की रात खोकसाहा चौक पर स्थित कपड़ा दुकान पर हुई अंधाधुंध फायरिंग एवं धीरज हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।

रोसड़ा डीएसपी सोनल कुमारी ने इस मामले का खुलासा करते हुए घटना के पीछे प्रेम प्रसंग एवं जमीन की खरीद बिक्री को लेकर हुए विवाद का होना मुख्य कारण बताया है। फिलहाल इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी पिंकेश कुमार उर्फ ज्योति प्रकाश को गिरफ्तार कर लिया है।

रोसड़ा डीएसपी सोनल कुमारी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया कि नौ मई की रात में विभूतिपुर थाना क्षेत्र के खोकसाहा चौक पर गोली चलने की सूचना पुलिस को मिली थी। जिसके बाद विभूतिपुर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची।

जहां विभूतिपुर थाना के हनुमाननगर वार्ड दस बेलसंडी तारा के रामचंद्र सिंह के 25 वर्षीय पुत्र धीरज कुमार की हत्या हो चुकी थी। जबकि कपड़ा दुकानदार कन्हैया कुमार उर्फ सुजीत कुमार भी गोली लगने से जख्मी हो गए थे।

डीएसपी ने बताया कि धीरज कुमार का पिंकेश कुमार की बहन के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। सत्यापन के क्रम में यह भी बात प्रकाश में आयी की पिंकेश कुमार उर्फ ज्योति प्रकाश एवं धीरज कुमार के बीच जमीन के खरीद बिक्री से संबंधित मनमुटाव चल रहा था।

इन्हीं सब कारणों से पिंकेश कुमार के द्वारा खोकसाहा चौक स्थित कन्हैया कुमार के कपड़ा दुकान पर बैठे धीरज कुमार पर गोली फायर कर दिया। गोली लगने से धीरज कुमार की मृत्यु हो गयी और दुकानदार कन्हैया कुमार उर्फ सुजीत कुमार जख्मी हो गया।

कन्हैया कुमार के हाथ में गोली लगी थी। इसके बाद विभूतिपुर थानाध्यक्ष के द्वारा तत्काल कार्रवाई करते हुए धीरज कुमार के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया था। जबकि इस मामले में पिंकेश कुमार उर्फ ज्योति प्रकश को खोकसाहा से गिरफ्तार कर लिया गया।

डीएसपी ने बताया कि छापेमारी टीम में विभूतिपुर थानाध्यक्ष आनंद कश्यप, सब इंस्पेक्टर भगत प्रसाद यादव, अरुण कुमार, प्रशिक्षु दारोगा राहुल कुमार आदि शामिल थे। बतादें कि घटना के विरोध में 10 मई को विभूतिपुर में सड़क भी जाम किया गया था।

जिसके कारण कई घंटे तक समस्तीपुर रोसड़ा मुख्य पथ पर यातायात सेवा बाधित रही। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने पीड़ित पक्षों को समझा कर यातायात शुरु करवाया था।

 

मुजफ्फरपुर में पाकिस्तानी संगठन से जुड़े नेपाल के संदिग्ध को पुलिस किया गिरफ्तार

doorbeennews
Author: doorbeennews

1 thought on “विभूतिपुर फायरिंग व हत्याकांड: प्रेम प्रसंग व जमीनी की खरीद बिक्री के विरोध में हुईं थी धीरज की ह’त्या”

Leave a Comment