July 17, 2024 8:47 pm
Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

वारिसनगर में बनेगा 132 केवी का ग्रीड सब स्टेशन चार ब्लॉकों के लोगों को मिलेगी सुविधा

दूरबीन न्यूज डेस्क। वारिसनगर में बनेगा 132 केवी का ग्रीड सब स्टेशन चार ब्लॉकों के लोगों को मिलेगी सुविधा। अब जिले के लोगों को बिजली की ओवरलोड केकारण होने वाली समस्याओं से शीघ्र ही मुक्ति मिल जाएगी। जिला मुख्यालय के मोहनपुर पावर ग्रीड पर ओवरलोड कम करने के उद्देश्य से वारिसनगर में नया ग्रीड सब स्टेशन का निर्माण किया जाएगा।
इससे खासकर कल्याणपुर, वारिसनगर, खानपुर एवं शिवाजीनगर प्रखंड के उपभोक्ताओं को काफी सुविधा मिलेगी। फिलहाल इन क्षेत्रों को मोहनपुर ग्रीड से ही पावर की आपूर्ति की जा रही है। ओवर लोड की समस्या के कारण आए दिन जंफर कटना, तार टूटना, डिस्क पंक्चर होने सहित अन्य समस्याओं को लेकर बिजली की आपूर्ति होने में परेशानी होती थी।
इसको देखते हुए कार्यपालक अभियंता आनंद कुमार ने डीएम योगेंद्र सिंह से मिलकर वारिसनगर प्रखंड में बिजली विभाग का ढाई एकड़ जमीन उपलब्ध होने की जानकारी दी। इसके बाद डीएम के द्वारा बिजली विभाग के शीर्ष प्रबंधन से वार्ता कर वारिसनगर में 132/33 केवी ग्रीड सब स्टेशन की स्वीकृति दिलायी गयी।
आने वाले दिनों में इस ग्रीड के निर्माण होने के बाद इन क्षेत्रों में 33केवी लाइन की दूरी कम हो जाएगी। जिससे तकनीकि खराबी को दुरुस्त करने में समय की बचत के साथ-साथ निर्बाध रुप से बिजली आपूर्ति बहाल करने में आसानी होगी। वहीं वोल्टेज ड्रॉप की समस्या में कमी आएगी।
मोहनपुर से 45 किमी की दूरी पर है उपकेंद्र:
कल्याणपुर, खानपुर, वारिसनगर एवं शिवाजीनगर प्रखंड में फिलहाल बिजली की आपूर्ति मोहनपुर पावर ग्रीड की जा रही है। इन सभी क्षेत्रों में 33/11 केवी स्थित पावर सब स्टेशन की दूरी मोहनपुर ग्रीड से अधिक है।
जिसके कारण गंडक नदी के दूसरी ओर पड़ने वाले क्षेत्रों में विद्युत शक्ति उपकेंद्र कल्याणपुर की दूरी लगभग 23 किमी है। खानपुर विद्युत शक्ति उपकेंद्र की दूरी लगभग 45 किमी, वारिसनगर विद्युत शक्ति उपकेंद्र की दूरी लगभग 30 किमी एवं एकद्वारी उपकेंद्र की दूरी लगभग  27 किमी है।
दूरी होने के कारण होती है यह समस्या: मोहनपुर ग्रीड से विद्युत शक्ति उपकेंद्र की दूरी होने के कारण आए दिन तकनीकि खराबी होती है। इसमें खासकर जंफर कटना, तार टूटना, इंसुलेटर व डिस्क पंक्चर होने की समस्या होती है। ऐसी स्थिति में लाइन के पेट्रोलिंग एवं रखरखाव में अधिक समय लगता है। फिलहाल 15 विद्युत शक्ति उपकेंद्रों की बिजली आपूर्ति मोहनपुर ग्रीड से होती है। जिसके कारण मोहनपुर ग्रीड ओवर लोड की स्थिति में चल रहा है।
निर्माण हो रहा है सब स्टेशन: जिले में पहले से भी ग्रीड सब स्टेशन का निर्माण किया जा रहा है। गंडक नदी के दूसरी ओर मोनहपुर, उजियारपुर, दलसिंहसराय, पटोरी एवं नए प्रस्तावित ग्रीड सब स्टेशन में ताजपुर एवं सरायरंजन में नदी के दूसरी ओर ही निर्माण कार्य किया जा रहा है। अब गंडक नदी के दूसरी ओर वारिसनगर में ग्रीड सब स्टेशन की मंजूरी मिल गयी है।
https://doorbeennews.com/archives/16168
doorbeennews
Author: doorbeennews

Leave a Comment