May 25, 2024 2:00 am
Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

समस्तीपुर में भी अब हुआ दांतों का इम्प्लांट प्लेसमेंट, डेंटिस्ट डॉ अमित गौरव ने किया इम्प्लांट प्लेसमेंट

दूरबीन न्यूज डेस्क,समस्तीपुर। समस्तीपुर शहर में भी अब दातों का इंप्लांटमेंट प्लेसमेंट की व्यवस्था हो गई है। डेंटिस्ट डॉक्टर अमित कुमार गौरव ने अपने निजी अस्पताल में मरीज का दांत का इंप्लांटमेंट प्लेसमेंट सफलतापूर्वक कर लिया। उन्होंने कहा कि दांत के इम्प्लांट प्लेसमेंट के लिए अब लोगों को दूसरे शहर जाने की जरूरत नहीं है। अब वह सफलतापूर्वक इंप्लांटमेंट प्लेसमेंट की सुविधा मरीज को दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि शहर के पप्पू खेमका अपनी दांत को लेकर काफी परेशान थे। जिनके दांत का इम्प्लांट प्लेसमेंट किया गया है। अब वो काफी सहज महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शरीर के अन्य अंगों की तरह दांत भी काफी संवेदनशील है। उसके प्रति भी सतर्क व जागरूक होने की जरूरत है। दांतो में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर तत्काल डेंटिस्ट की मदद लेना चाहिए।

डॉ अमित गौरव ने बताया कि दिन में कम से कम दो बार दांतों और मसूड़ों को ब्रश करें। यदि आप कर सकते हैं, तो प्रत्येक भोजन के 30 मिनट से 1 घंटे बाद भी ब्रश कर सकते हैं। ऐसा करने से दांतों पर चिपकी बैक्टीरिया की परत प्लाक हट जाती है। जब प्लाक में बैक्टीरिया भोजन के संपर्क में आते हैं, तो वे एसिड उत्पन्न करते हैं। इससे दांतों में कई प्रकार की समस्या आ सकती है।

उन्होंने बताया कि कैविटीज़ को रोकने के लिए, आपको प्लाक को हटाने की आवश्यकता है। ऐसा करने के लिए, अपने दांतों को दिन में दो बार ब्रश करें और दिन में कम से कम एक बार फ्लॉस करें। ब्रश करने से मसूड़े भी उत्तेजित होते हैं, जो उन्हें स्वस्थ रखने और मसूड़ों की बीमारी को रोकने में मदद करता है।

 ब्रश करना और फ्लॉसिंग करना सबसे महत्वपूर्ण क्रिया है, जो आप अपने दांतों और मसूड़ों को स्वस्थ रखने के लिए कर सकते हैं। सामने के दांतों में गैप का सबसे आम कारण फ्रेनम है जो सामान्य से नीचे बैठता है और सामने के दो शीर्ष दांतों को अलग रखता है।

ऊपरी होंठ के अंदर फ्रेनम त्वचा की एक तह होती है जो ऊपरी होंठ को ऊपरी मसूड़े से जोड़ती है। यदि आप अपना ऊपरी होंठ ऊपर उठाते हैं, तो आपको इसे आसानी से महसूस करने में सक्षम होना चाहिए। डॉ गौरव ने कहा कि रात में सोने से पहले अच्छी तरह से ब्रश करने की जरूरत है। इससे दांतों में फंसे अनाज के अवशेष निकल जाते हैं।

doorbeennews
Author: doorbeennews

1 thought on “समस्तीपुर में भी अब हुआ दांतों का इम्प्लांट प्लेसमेंट, डेंटिस्ट डॉ अमित गौरव ने किया इम्प्लांट प्लेसमेंट”

Leave a Comment