May 25, 2024 12:08 am
Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

रसोई गैस का रेगुलेटर व नॉब को रखे बंद तथा सुबह नौ बजे से पहले व शाम में 6 बजे के बाद बनाए भोजन,

समस्तीपुर। आग से बचाव को लेकर जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है । इस दौरान शहर के पटेल मैदान गोलंबर के पास कैंप लगाकर प्रशिक्षु अग्निक रवि कुमार शर्मा, संदीप कुमार सिंह, नेहा कुमारी, कोमल कुमारी के द्वारा लोगों को जागरुक किया गया। लोगों को पंपलेट देते हुए आग से बचाव की जानकारी दी गयी। साथ ही हर लोगों को अपने-अपने घर व मोहल्लों में उक्त पंपलेट से यह जानकारी पहुंचाने की अपील की गयी।

साथ ही घर मे रसोई गैस का रेगुलेटर व नॉब को बन्द रखने तथा ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह नौ बजे से पहले व शाम में 6 बजे के बाद भोजन बनाने की अपील की गई।  वही खेत खलिहान में फसल का अवशेष नही जलाने व बीड़ी सिगरेट पीकर यत्र तत्र नही फेंकने की अपील की गई। अभियान का नेतृत्व जिला अग्निशमन अधिकारी सुरेंद्र कुमार सिंह कर रहे हैं।

विश्वंभरपुर में मॉकड्रिल:
मुसरीघरारी थाना के विश्वंभरपुर एलौथ गांव में जिला अग्निशमन कार्यालय के द्वारा लोगों को आग से बचाव के तरीकों को मॉक ड्रिल कर बताया गया। इस दौरान अग्निक चुन्नू कुमार, मनीष कुमार प्रसाद, विवेक कुमार, नीपू कुमारी, चांदनी कुमारी ने मॉकड्रिल कर लोगों को जानकारी दी। साथ ही आग से बचाव की जानकारी देते हुए सतर्क रहने की अपील की गयी।


ऊंचे भवनों में अग्नि सुरक्षा:
भवन निर्माण में अग्निरोधी उपायों केसाथ आईएसआई मानक वाले तारों का उपयोग करें। भवनामें अग्नि सुरक्षा उपाया व उपकरणों को हमेशा चालू हालत में रखें। रसोई गैस का उपयोग के बाद नॉब एवं रेगुलेटर दोनों बंद रखें। भवन के चारों तरफ छोड़े गए रास्ता को वाहनों के लिए हमेशा खाली रखें। प्रवेश, निकास, सीढ़ियां, दरवाजे, हाइड्रेंटस, लिफ्ट सहित मैप प्लान को भवन के दीवाल पर अंकित करें।


आग के समय क्या नहीं करें:
भवनों के प्रवेश एवं निकास को किसी भी परिस्थिति में अवरुद्ध ना रखें। भवनों में जलते हुए सिगरेट आदि के टुकड़े को यत्र तत्र ना फेंके। भवनों में अनावश्यक रुप से कूड़ा करकट, रद्दी सामानों, ज्वलनशील पदार्थों का भंडारण ना करें। भवन के चारों तरफ किसी भी परिस्थिति में हवा में झूलते तार न लें जाएं। इससे अग्निशमन कार्य प्रभावित होता है।


आग लगने पर इन नंबरों पर करें कॉल:
टॉल फ्री नंबर : 101 व 102
समस्तीपुर : 06274-223248
7485805936, 7485805937
दलसिंहसराय : 06278-221222
7485805940, 7485805941
रोसड़ा : 06275-222097
7485805942, 7485805943
पटोरी : 06278-234223
7485805938


आग से बचाव के लिए क्या करें:
फुस की झोपड़ी पर मिट्टी का लेप करें। खाना पकाते समय बर्तन में दो बाल्टीपानी रखें। सुबह नौ बजे से पहले एवं शाम छह बजे के बाद बनाएं भोजन। थ्रेसर मशीन  के पास दो ड्राम पानी रखें। काम खत्म होने के साथ ही गैस रेगुलेटर बंद रखें।


ऐसा कभी ना करें:
खेत के अवशेष का मत जलाएं। हवा बहने के समय भूलकर भी आग ना जलाएं। जलते हुए माचिस के तिल्ली एवं सिगरेट बीड़ी के टुकड़े को जहां-तहां ना फेंके। रसोई घर में मिट्टी का तेल एवं अन्य ज्वलनशील पदार्थ ना रखें। दो झोपड़ियों को सटाकर ना बनाएं।

doorbeennews
Author: doorbeennews

Leave a Comment